संकेत कुछ अच्छे नहीं हैं नीतीश जी के लिए...

Typography

कल राजद संसदीय दल की बैठक के बाद वरिष्ठ राजद नेताओं ने नीतीश कुमार को सीधे अपने निशाने पर लियाl संकेत कुछ अच्छे नहीं हैं नीतीश जी के लिए...

राजद खेमे में इस बात की घुटन व् कसक सरकार बनने के बाद से ही थी कि गठबंधन का सबसे बड़ा दल होने के बावजूद नीतीश जी ने अपनी 'ऑटोक्रैटिक स्टाईल ऑफ फंक्शिनिंग' से राजद को बैकफुट पर धकेल रखा हैl” राजद के कार्यकर्ताओंसमर्थकों व् वोट-बैंक को भी इस का मलाल था और असंतोष का एक माहौल कायम होता दिख रहा था जिसके परिणामस्वरूप शीर्ष नेतृत्व पर भी दबाब कायम हो रहा था l

हाल के दिनों में राजद से सक्रीय तौर पर जुड़े लोगों से सीधे संवाद के दौरान कुछेक कॉमन अभिव्यक्ति सुनने को मिली: "सरकार में कहने को तो हम मेजर पार्टनर हैं लेकिन हो वही रहा है जो नीतीश कुमार चाह रहे हैं...,  सरकार के अनेकों अहम फैसले हमारी राय लिए बगैर तय कर लिए जा रहे हैं..., हमारी चुप्पी व् सरकार के फैसलों पर हमारी सहमति को जेडी (यू) हमारी कमजोरी समझने की भूल न करे, कुछेक फैसलों पर असहमति के बावजूद अगर हम मौन हैं तो सिर्फ इस लिए कि हम जनता के बीच कोई भ्रम की स्थिति नहीं पैदा करना चाहते, न ही सरकार के काम-काज में अड़ंगा डालने का ठीकरा अपने ऊपर फूटने देना चाहते..., बहुत चालाकी से और रणनीति के तहत इस सरकार के अब तक के कार्यकाल की 'गुडी-गुडी' चीजें जेडी (यू) अपनी झोली में डालता जा रहा है और सारी निगेटिव चीजों का श्रेय राजद के नाम करने की कोशिश भी जारी ही है..., सरकार के काम में हमारी तरफ से कोई अनावश्यक दखलंदाजी नहीं होने को हमारी कमजोरी समझ हमें हाशिए पर धकेले जाना हमें कतई मंजूर नहीं है..."

राजद समर्थकों की उपरोक्त अभिव्यक्तियों और तदुपरांत शीर्ष नेतों के प्रतिकियावादी बयानों से ये साफ तौर पर समझा जा सकता है कि "महागठबंधन की सरकार में राजद अब अपनी भूमिका कड़े तेवरों के साथ तय करने के मूड में है l" वैसे भी राजद अपने 'अग्रेसिव अप्रोच' के कारण ही अपने वोट-बैंक को अपील करता है और पिछले तमाम 'डाउन्स' के बावजूद अगर राजद का वोट-बैंक बरकरार है तो वो सिर्फ और सिर्फ पॉलिटिक्स में राजद की फ्रंट पर रह कर आक्रामकरणनीति के साथ चलने के कारण है l.

वर्त्तमान में अगर राजद से जुड़े जमीनी लोग अगर खुद को हाशिए पर एवं ठगा महसूस कर रहे हैं तो ऐसे में उनको जोड़े रखने के लिए एवं सरकार में सीनियर पार्टनर की अपनी भूमिका को दर्शाने के लिए राजद की ओर से नीतीश जी की कार्यशैली पर तीखे सवाल आगे भी उठते दिखें तो कोई आश्चर्य नहीं!!


Alok Kumar, Sr. Journalist, Patna.

BLOG COMMENTS POWERED BY DISQUS

PhotoGallery

photogallery module

Your Favorite Recipes on PD

Recipes

Latest Comments